Aspartame के लाभ और सुरक्षा

रॉबिन फ्लिप्स, एमएस, एमए, आरडीएन
कैलोरी नियंत्रण परिषद की सलाहकार

वैश्विक जनसंख्या, मनुष्य के इतिहास में पहले से कहीं तीव्रतर दर पर, बूढ़ी हो रही है। अन्तर्राष्ट्रीय जनसंख्या रिपोर्टों (International Population Reports) के अनुसार वर्तमान में पूरे विश्व में 65 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों की संख्या कुल जनसंख्या का 8.5 प्रतिशत है, अर्थात 671 मिलियन लोग।  ऐसा अनुमानित है कि 2050 तक यह संख्या 1, 566 मिलियन लोगों तक पहुंच जाएगी, अर्थात विश्व जनसंख्या का 16.7 प्रतिशत 65 वर्ष से अधिक की आयु का हो जाएगा!

यदि आप यह जानने के लिए उत्सुक हैं कि इसका aspartame और अन्य कैलोरी-रहित और कम कैलोरी वाले स्वीट्नर्स में क्या सम्बंध है, तो इनमें एक सम्बंध है। यह जानना कि आप अपनी 80 और 90 की आयु में अच्छे से रह सकते हैं, वर्तमान में बेहतर जीवनयापन के लिए प्रोत्साहित कर सकता है, जिससे जैसे जैसे आप वृद्ध होते जाते हैं आप अपने जीवन की गुणवत्ता को विकसित कर सकते हैं। यहां aspartame सहायता कर सकता है।

Aspartame के लाभ

Aspartame 35 सालों से अधिक से एक अनुमोदित खाद्य योगज है। 1980 के दशक में, अपने प्रारंभ से ही, खाद्य सामग्री में एक ऐसे कृत्रिम स्वीटनर के रूप में जो शर्करा की तुलना में 200 गुना अधिक मीठा है, शोध की एक प्रगतिशील संस्था ने एक स्वस्थ जीवनशैली में इसकी भूमिका का प्रदर्शन किया है। अधिकतर सूचित किए गए लाभों में aspartame और अन्य कृत्रिम स्वीटनर्स निम्नलिखित में सहायता कर सकते हैं:

  • वज़न के रखरखाव में
  • वज़नकोघटानेमें
  • मोटापे से सम्बद्ध खतरों को कम करने में
  • कम मिलाई गई शर्करा और कम कैलोरीज़ से आहार संतुष्टि में
  • स्वस्थ आहारों की एक बृहद विविधता को खाने में
  • मधुमेह के प्रबन्धन में

कम कैलोरी वाले स्वीटनर्स के बारे में जानकारी वज़न के प्रबन्धन के लिए महत्वपूर्ण है, क्योंकि विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) यह बताता है कि आयु के बढने के साथ ही हम भारी भी होते जा रहे हैं। असल में, मोटापा वैश्विक जनसंख्या में 1980 की तुलना में दोगुने से भी अधिक हो गया है। आज अधिक वज़न और मोटापा असंक्रामक बीमारियों जैसे दिल की बीमारी, आघात, मधुमेह और कुछ कैन्सरों के मुख्य खतरे के घटक बन गए हैं और विश्व भर में कम वज़न की तुलना में अधिक मौतों से जुड़े हुए हैं।

यदि आप ऐसी चिरकालिक बीमारियों से बचना चाहते हैं जो आपकी उम्रवृद्धि के साथ ही आपकी स्वतंत्रता को छीन सकती हैं, एक सबसे महत्वपूर्ण कदम जो आप उठा सकते हैं वह है एक स्वस्थ शारीरिक वज़न को प्राप्त करना। शर्करा के स्थान पर aspartame का प्रयोग भोजन और पेयों में एक मीठा स्वाद लाने में मदद कर सकता है जिसमें बहुत कम या कोई कैलोरी नहीं होती।  और इसे सिर्फ उनके द्वारा ही नहीं जिन्हें वज़न कम करना है अपितु पूरे परिवार के द्वारा उपयोग में लाया जा सकता है, हालांकि किसी भी अनभिप्रेत वज़न में कमी को हमेशा आपके चिकित्सक के ध्यान में लाया जाना चाहिए।

Aspartame एक दवा नहीं है इसलिए बिना किसी अन्य आचरण बदलावों के वज़न को कम नहीं कर सकता, परन्तु यह संतुलित और संतोषजनक आहार के प्रबन्धन में एक महत्वपूर्ण उपकरण हो सकता है — और वह आपके जीवन में अधिक स्वस्थ और आनंदपूर्ण वर्षों को जोड़ सकता है।

Aspartame की सुरक्षा

तीन दशकों से भी अधिक पहले, खाद्य योगज के रूप में जब इसको पहली बार अनुमोदित किया गया था तभी से aspartame की सुरक्षा की खाद्य सुरक्षा विशेषज्ञों द्वारा सख्ती से निगरानी की गई है। मनुष्यों और पशुओं पर नए शोध मौजूदा प्रमाण तत्व के साथ नियमित रूप से मूल्यांकित किए जाते हैं ताकि प्रदर्शन के वर्तमान स्तरों या Acceptable Daily Intake (ADI) का जनसंख्या पर किसी भी संभावित खतरे का निर्धारण हो सके। विशेषज्ञ बताते हैं कि aspartame वंशाणुओं को कोई आघात नहीं पहुंचाता या कैन्सर को प्रेरित नहीं करता, मस्तिष्क को या तंत्रिका तंत्र को नुकसान नहीं पहुंचाता, और बच्चों या वयस्कों के आचरण या संज्ञानात्मक प्रकार्य को प्रभावित नहीं करता। उन्होंने यह भी पता लगाया है कि वर्तमान ADI स्तरों पर गर्भावस्था में इसके प्रयोग से विकासशील भ्रूण पर भी कोई खतरा नहीं है (सिर्फ उन स्त्रियों को छोड़कर जो PKU से ग्रसित हैं)।

90 से भी अधिक देशों का प्रतिनिधित्व कर रही नियामक संस्थाओं ने aspartame पर वैज्ञानिक साहित्य पर अपनी निजी समीक्षाएं की हैं और अपने लोगों के लिए इसके उपयोग को अनुमोदित किया है। सूची में शामिल हैं संयुक्त राज्य अमरीका, कनाड़ा, यूरोपीय खाद्य सुरक्षा प्राधिकरण के सदस्य देश (EFSA), फ्रांस, ऑस्ट्रेलिया, न्यूज़ीलैंड और ब्राज़ील। 2013 में EFSA ने खाद्य योगज के रूप में aspartame की सुरक्षा पर एक वैज्ञानिक मत पुनः जारी किया था और पुनः यह स्थापित किया कि वर्तमान प्रदर्शन आकलन के आधार पर यह सुरक्षा चिन्ता नहीं है और 40mg/kg के आधार पर शारीरिक वज़न के अनुसार प्रतिदिन इसके ADI को संशोधित करने का कोई कारण नहीं है।

यह जानना आश्वस्तकारी है कि aspartame की सुरक्षा के बारे में इतने सारे विशेषज्ञों का एक ही मत है, खासकर तब जब अमिश्रित अध्ययनों से असंगत रिपोर्टें समाचारों में आती हैं। हमारी नब्बे की आयु में अच्छे से रहना और उसके बारे में चिन्ता न करना एक बड़ी चुनौती है!

 

Robyn Flipseरॉबिन फ्लिप्स, एमएस, एमए, आरडीएन एक पंजीकृत आहार-विशेषज्ञ और क्लिनिकल एंथ्रोपोलॉजिस्ट हैं जिनके 30 से अधिक वर्षों के कार्यकाल में शामिल है एक व्यस्त पोषण सलाहकारिता प्रैक्टिस चलाना, विश्वविद्यालय स्तर पर खाद्य और पोषण कोर्स पढ़ाना, और 2 लोकप्रिय आहार संबंधी पुस्तकें तथा स्वास्थ्य और चुस्ती पर असंख्य लेख और ब्लॉग लिखना।  असमंजस में डालने वाले और कभी-कभी विवादास्पद पोषण संबंधी समाचारों में से काम की बातें निकालने की उनकी क्षमता ने उन्हें सीएनबीसी, फ़ॉक्स न्यूज और यूएसए टुडे सहित कई प्रमुख मीडिया आउटलेटों पर अक्सर दिखने वाली अतिथि बना दिया है। उनका जुनून है, लोगों को ऐसी व्यावहारिक पोषण संबंधी जानकारी देना जो उन्हें अपने रोजमर्रा के आहारों के लिए सर्वश्रेष्ठ खाद्य निर्णय लेने की योग्यता प्रदान करती है। उन तक पहुँचें Twitter @EverydayRD पर और उनका ब्लॉग The Everyday RD पढ़ें।