गर्भकालीन मधुमेह (Gestational Diabetes) के साथ दो लोगों के लिए भोजन करना

6e47810c-637e-41e1-8858-bb0cb20b1fa5

6e47810c-637e-41e1-8858-bb0cb20b1fa5

गर्भावस्था वह खुशी और प्रसन्नता का समय होता है जब माँ नए शिशु का दुनिया में स्वागत करती है। लेकिन, कुछ स्त्रियों के लिए गर्भावस्था गर्भकालीन मधुमेह भी ला सकती है।

मधुमेह एक गंभीर रोग है जिसमें आपका शरीर आपके रक्त में शक्कर, जिसे ग्लुकोज कहते हैं, की मात्रा का ठीक से नियंत्रण नहीं कर पाता है।  (यदि आपको मधुमेह है और आप गर्भवती होने की योजना बना रही हैं तो किसी स्वास्थ्य देखभाल पेशवर के साथ किसी भी सरोकार और आहार संबंधी आदतों पर चर्चा करना महत्वपूर्ण है।) गर्भकालीन मधुमेह होने पर, माँ और शिशु के लिए संभावित जटिलताएं और जोखिम गंभीर हो सकते हैं, और यही वजह है कि स्त्री की पूरी गर्भावस्था के दौरान डॉक्टर कई बार रक्त ग्लूकोज की जाँच करते हैं।

गर्भावस्था के दौरान मधुमेह से ग्रस्त होने का निदान चुनौतीपूर्ण लग सकता है लेकिन रक्त ग्लूकोज का नियंत्रण करने के लिए स्वास्थ्य देखभाल टीम के साथ मिलकर काम करना महत्वपूर्ण है। इसके लिए अक्सर जीवनशैली में बदलाव करने की जरूरत पड़ती है जिनमें आहार में परिवर्तन, अपने वज़न में बढ़ोतरी को नियंत्रित करना, शारीरिक रूप से सक्रिय होना, और कुछ मामलों में, दवाइयाँ लेना शामिल हैं। (कई मामलों में, गर्भकालीन मधुमेह आपके बच्चे के जन्म के बाद ठीक हो जाती है।)

गर्भावस्था के दौरान माँ का आहार बहुत महत्वपूर्ण होता है क्योंकि वह न केवल माँ को, बल्कि विकसित हो रहे शिशु को भी प्रभावित करता है। गर्भावस्था के दौरान कुछ चीजें खाने की तीव्र इच्छा और कई तरह के खाद्य पदार्थों से विरक्ति होना सामान्य है इसलिए किसी पंजीकृत आहार विशेषज्ञ या अपनी स्वास्थ्य देखभाल टीम के किसी अन्य सदस्य के साथ उन पर चर्चा करें ताकि वे ऐसी योजना बना सकें जो न केवल आपके पोषण संबंधी जरूरतों को पूरा करती हो बल्कि लुभावनी भी हो।  (यदि आपका आहार ऐसे खानों से भरा है जो आपको अच्छे नहीं लगते, तो शायद आप उसे खाने को तैयार नहीं होंगी।)

यह याद रखना जरूरी है कि माताओं को खुद के और शिशु के स्वास्थ्य दोनों के लिए पर्याप्त कैलोरी और पोषजों वाला आहार लेने की जरूरत होती है, जिसके कारण स्वादिष्ट चीजें खाने के अवसर कम हो सकते हैं।  चाहे किसी खाने को स्वस्थ (जैसे फल और सब्ज़ियाँ) माना जाए या शौक से खाया जाने वाला (जैसे मिठाइयां), कई खाद्य पदार्थ रक्त ग्लूकोज को प्रभावित कर सकते हैं।  आपका स्वास्थ्य देखभालप्रदाता यह निर्धारित करने में आपकी मदद कर सकता है कि कतिपय खाद्य पदार्थ कितनी बार और कितनी मात्रा (हिस्से का आकार महत्वपूर्ण है) में खाए जा सकते हैं।

माताएं अपने शिशु को सबसे अच्छा पोषण देना चाहती हैं इसलिए यह समझना आसान है कि उन्हें क्यों कतिपय खाद्य पदार्थों या भोजन की सामग्रियों के प्रति चिंताएं हो सकती हैं।  चाहे उन्हें मधुमेह हो या न हो, कुछ माताओं को कम कैलोरी वाले स्वीटनरों, जैसे एस्पार्टमे के गर्भावस्था के दौरान उपयोग के बारे में शंकाएं हो सकती हैं।  दुर्भाग्य से, हाल के दिनों में कम कैलोरी वाले स्वीटनरों के बारे में काफी गलत जानकारी आई है।  तथापि, एस्पार्टमे को आपके आहार में सुरक्षित और सरल तरीके से प्रतिस्थापित किया जा सकता है और वह आपके लिए अतिरिक्त कैलोरियों को जोड़े बिना या आपकी रक्त ग्लूकोज को प्रभावित किए बिना किसी मीठी चीज का आनंद लेना संभव बनाता है।  माताएं इस तथ्य से आश्वस्त हो सकती हैं कि एस्पार्टमे गर्भनाल को पार नहीं करता है और विकसित हो रहे शिशु तक कभी नहीं पहुँचता है। इसकी बजाय, एस्पार्टमे शरीर में अन्य खाद्य पदार्थों में पाए जाने वाले घटकों में ही विघटित हो जाता है। एस्पार्टमे शरीर में किस प्रकार से विघटित होता है, इस बात की अधिक जानकारी यहाँ दी गई है।

अमरीकी खाद्य और औषधि प्रशासन (एफडीए) और अमेरिकन मेडिकल एसोसिएशन की काउंसिल ऑन साइंटिफिक अफेयर्स इस बात पर सहमत हैं कि गर्भवती या स्तनपान कराने वाली स्त्रियाँ एस्पार्टमे का उपयोग सुरक्षित रूप से कर सकती हैं। अमेरिकन एकेडमी ऑफ पीडियाट्रिक्स कमिटी ऑन न्यूट्रीशन टास्क फोर्स ने भी निश्चित किया है कि एस्पार्टमे माँ और विकसित हो रहे शिशु दोनों के लिए सुरक्षित है। तथापि, यह महत्वपूर्ण है कि फिनाइलकीटोन्यूरिया (जिसे PKU भी कहते हैं) से ग्रस्त माताओं को एस्पार्टमे के उपयोग के बारे में अपनी स्वास्थ्य देखभाल टीम के साथ चर्चा करनी चाहिए, क्योंकि एस्पार्टमे फिनाइलएलेनाइन का एक स्रोत है।

गर्भवती होने पर अपने आहार का प्रबंधन करना, खास तौर पर यदि आपको मधुमेह है तो, आरंभ में काफी मुश्किल लग सकता है।  अक्सर अस्थायी होने पर भी, खराब ढंग से नियंत्रित मधुमेह माँ और विकसित हो रहे बच्चे दोनों के लिए गंभीर हो सकती है। इसलिए यह बहुत महत्वपूर्ण है कि आप अपने स्वास्थ्य देखभालप्रदाता के साथ मिलकर ऐसे तरीके खोजें जो आपके आहार को मज़ेदार तथा आप और आपके शिशु के लिए पोषक बना सकें और इस खास समय को आनंदमय बनाना सुनिश्चित कर सकें।